Error: Twitter API rate limit reached
सांडों को काबू करने के मशहूर खेल जल्लीकट्टू पर लगा प्रतिबंध हटाने की मांग को लेकर मदुरै के पास अलंगनल्लूर गांव में युवकों ने प्रदर्शन किया। इसके बाद पुलिस ने करीब 200 लोगों को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए बुलाए जाने पर युवाओं को लगा कि यहां जल्लीकट्टू का आयोजन होगा और वह सोमवार को बड़ी संख्या में गांव पहुंच गए। कुछ शरारती तत्वों ने सड़क पर कुछ सांडों को छोड़ दिया जिन्हें काबू करने का प्रयास कर रहे युवकों को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। पुलिस ने बताया कि इनमें से कई युवकों ने जल्लीकट्टू आयोजन स्थल के निकास मार्ग ...
नवभारत टाइम्स Tue, 17 Jan 2017 09:56:37 GMTView
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद तमिलनाडु में कई जगह जलीकट्टू का आयोजन किया जा रहा है। मदुरै में बड़ी संख्या में लोगों ने इकट्ठा कर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ प्रदर्शन किया और जानवरों के लिए काम करने वाली संस्थाएं जैसे PETA के खिलाफ नारेबाजी भी की। प्रदर्शनकारियों पर पुलिस को लाठीचार्ज करनी पड़ी। पुलिस ने बैलों को भी जब्त कर लिया। अलंगानाल्लुर में प्रसिद्ध जलीकट्टू के दौरान मैदान में सांडों को छोड़ दिया गया। यहां सैकड़ों गांववाले जलीकट्टू के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे थे। बता दें कि यह पांचवां दिन है जब लोग जलीकट्टू को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के ...
नवभारत टाइम्स Mon, 16 Jan 2017 07:57:48 GMTView
चेन्नई, 16 जनवरी :: जल्लीकट्टू के मुद्दे पर द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन और पेटा के बीच आज वाकयुद्ध शुरू हो गया । जहां स्टालिन ने पेटा को राष्ट्र-विरोधी करार दिया जबकि पशु अधिकार वादी इस संगठन ने आलाचेना को घटिया एवं अनुपयोगी करार दिया। फसलों के त्यौहार पोंगल पर सांड़ को काबू करने के खेल जल्लीकट्टू का तीव्र करने पर जल्लीकट्टू समर्थकों ने पीपुल फोर इथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनीमल्स :पेटा: की कड़ी आलोचना की है। जल्लीकट्टू विरोधी प्रदर्शनों में आगे रहे पेटा को निशाना बनाते हुए तमिलनाडु के विपक्ष के नेता स्टालिन ने कहा कि ऐसे अंतरराष्ट्रीय एनजीओ भारत की ...और अधिक »
नवभारत टाइम्स Mon, 16 Jan 2017 14:36:06 GMTView
नई दिल्ली, जेएनएन। तमिलनाडु में पारंपरिक समारोह जलीकट्टू पर उच्चतम न्यायालय के प्रतिबंध लगाए जाने के बावजूद मदुरै जिले के पराईपट्टी में स्थानीय गांव वालों ने इस खेल का आयोजन किया। इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कई लोगों को हिरासत में लिया है। दक्षिण तमिलनाडु के तीन जगहों पर रविवार को जलीकट्टू का आयोजन करने का प्रयास किया गया, जिसके बाद कई लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस ने बताया कि तमिलनाडु के मदुरै जिले के मुदाकथन, अलंगानाल्लुर, पालामेडु और विलांगुडी, डिंडीगुल जिले के नल्लमपटटी और तंजावुर जिले के पोटटुचवाड़ी में जलीकट्टू पर प्रतिबंध का ...और अधिक »
दैनिक जागरण Sun, 15 Jan 2017 09:26:21 GMTView
इस बीच तमिलनाडु के कुडलकोर में जलीकट्टू का आयोजन कर रहे चार लोग गिरफ्तार कर लिए गए गए हैं. तमिलनाडु में यह मामला काफी गहराता जा रहा है, लोग जगह-जगह जलीकट्टू को जारी रखने को लेकर प्रदर्शन भी कर रहे हैं. जलीकट्टू मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र के नोटिफिकेशन पर अपना फैसला सुरक्षित रखा हुआ है. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट से मांग की गई थी कि जलीकट्टू को लेकर अदालत ने जो आदेश सुरक्षित कर रखा है, उस पर शनिवार से पहले आदेश सुना दिया जाए. कोर्ट ने कहा फैसले का ड्रॉफ्ट तैयार हो गया है लेकिन शनिवार से पहले आदेश सुनाना संभव नहीं है. जल्लीकट्टू यानी सांड़ों की दौड़ पर रोक के ...
आज तक Thu, 12 Jan 2017 09:16:45 GMTView
जल्लीकट्टू के समर्थकों ने पेटा की समर्थक होने के कारण तमिलनाडु में चल रही तृषा की फिल्म की शूटिंग में बाधा डाली। प्रदर्शनकारी पशु कल्याण संगठन के समर्थन के लिए अभिनेत्री से माफी की मांग कर रहे थे। तृषा काफी समय से 'पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट एनिमल्स (पेटा)' के साथ जुड़ी हुई हैं, जो सांड़ों के खेल जल्लीकट्टू के खिलाफ अभियान चला रही है। संस्था की मांग है कि इस खेल का समर्थन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। जल्लीकट्टू के गुस्साए समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए त़ृषा की आगामी फिल्म 'गर्जनई' की शूटिंग में बाधा डाली, जिसके कारण फिल्म की शूटिंग ...
Jansatta Sat, 14 Jan 2017 05:30:55 GMTView
The letter has been written by N G Jayasimha, member of the Animal Welfare Board of India (AWBI) and Managing Director of Humane Society International (HSI), and Gauri Maulekhi, Trustee at People for Animal (PFA), who are among the petitioners against the Centre's notification. Rajya Sabha MP Subramanian Swamy also made the demand of imposition of President's Rule in Tamil Nadu in case the state failed to enforce the ban on Jallikattu. Swamy tweeted, “If Jallikattu is held without awaiting SC judgment permitting it and Tamil Nadu Govt fails to enforce the law, Centre must declare President's Rule.” These appeals follow media reports of Jallikattu being held today in Cuddalore in Tamil Nadu. The Chief Minister of Tamil Nadu too has said that he will ...
Janta Ka Reporter Thu, 12 Jan 2017 15:22:54 GMTView
चेन्नई, 13 जनवरी :: सांड़ों की लड़ाई जल्लीकट्टू के आयोजन के लिए अध्यादेश लाने की तमिलनाडु में इस हफ्ते मांग बढ़ने के बीच पशु अधिकार संगठनों ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को आज पत्र लिखा और ऐसे किसी संभावित कदम के खिलाफ दलील दी। पेटा ने एक बयान में कहा है कि पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स :पेटा: ने मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे को इस सिलसिले में पत्र लिखा है। पेटा ने एक विग्यप्ति में कहा, पेटा और फेडरेशन ऑफ इंडियन एनिमल प्रोटेक्शन आर्गेनाइजेशन :एफआईएपीओ: ने इस बात का जिक्र किया है कि जंतु निर्ममता निवारण अधिनियम, 1960, ...
नवभारत टाइम्स Fri, 13 Jan 2017 12:20:34 GMTView
SC ने पोंगल के दौरान खेले जाने वाले 'जलीकट्टू' संबंधित याचिका पर शनिवार से पहले सुनवाई करने से इंकार कर दिया है। डीएमके ने इस मुद्दे पर राज्यव्यापी विरोध-प्रदर्शन करने का फैसला किय. चेन्नई (एएनआई)। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को जलीकट्टू से संबंधित याचिका पर शनिवार से पहले हस्तक्षेप करने से इंकार कर दिया और कहा कि इसपर बेंच से आदेश पारित करने को कहना उचित नहीं है। बता दें कि शनिवार यानि 14 जनवरी को ही पोंगल मनाया जाएगा जिसमें खेल जलीकट्टू पर से प्रतिबंध हटाने और अध्यादेश की मांग की गयी थी। इस बीच डीएमके ने इस मुद्दे पर राज्यव्यापी विरोध-प्रदर्शन करने का फैसला किया है।
दैनिक जागरण Thu, 12 Jan 2017 10:44:55 GMTView
जलीकट्टू मामला: अध्‍यादेश की मांग के साथ डीएमके का राज्‍यव्‍यापी प्रदर्शन. पोंगल पर खेले जाने वाले पारंपरिक जलीकट्टू खेल पर से प्रतिबंध हटाने और अध्‍यादेश की मांग करते हुए डीएमके कार्यकर्ता राज्‍यव्‍यापी प्रदर्शन कर रहे हैं। चेन्नई (एएनआई)। तमिलनाडु में शुक्रवार को जलीकट्टू मामले पर आक्रोशित डीएमके के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रदर्शन कर रहे डीएमके के कार्यकर्ता कलेक्टर के कार्यालय के पास एकत्रित हो गए। पार्टी के अध्यक्ष एम के स्टालिन और कनिमोझी भी प्रदर्शन में शामिल हैं। पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, जलीकट्टू मामले में शनिवार से पहले नहीं होगी ...
दैनिक जागरण Fri, 13 Jan 2017 06:57:13 GMTView
Error: Twitter API rate limit reached
jallikattu NewsTerITz9Q55nrR8WVplV7H2jwk