Error: Twitter API rate limit reached
नई दिल्‍ली: सपा की पहले तीन चरणों के लिए सूची जाने के होने के साथ कांग्रेस के साथ होने जा रहे गठबंधन पर फिर सस्‍पेंस बन गया है. सपा के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष किरणमंय नंदा ने आज कहा कि गठबंधन को लेकर कांग्रेस का रुख सकारात्‍मक नहीं है और कांग्रेस केवल 54 सीटों की हकदार है. नन्दा ने कहा कि इस हिसाब से कांग्रेस को 54 सीटें ही मिलनी चाहिए, लेकिन अगर वह गंभीरता से बातचीत करे तो उसे 25-30 सीटें और दी जा सकती है. सपा कांग्रेस को अधिकतम 85 सीटें दे सकती है. उनके इस बयान और सपा के पहले तीन चरणों के लिए 191 प्रत्‍याशियों के नाम जारी होने के बाद माना जा रहा है कि दोनों पक्षों में खटास ...
एनडीटीवी खबर Fri, 20 Jan 2017 08:23:15 GMTView
समाजवादी पार्टी से गंठबंधन के प्रयासों के बीच कांग्रेस जिले की तीन सीटों पर दावा कर रही है। दिल्ली में हुई मैराथन बैठकों में बड़े नेताओं ने जिले की तीन सीटों की मांग रखी है। सूत्रों का कहना है कि शहर में कांग्रेस की परफॉर्मेंस ठीक है, पिछले चुनाव में एक सीट कांग्रेस ने जीती थी। इसके साथ ही पूर्व में कांग्रेस ने एक सीट पर बीजेपी को मात दी थी। कांग्रेस सूत्रों की मानें तो गठबंधन के फॉर्म्यूले में जिन सीटों पर बात तय हो रही है, उसमें जिले की तीन सीटें भी हैं। फिलहाल कैंट पर कांग्रेस के टिकट पर रीता बहुगुणा जीती थीं, जो अब बीजेपी में हैं। यहां से मुलायम की दूसरी बहू ...और अधिक »
नवभारत टाइम्स Fri, 20 Jan 2017 03:30:11 GMTView
सपा ने गुरुवार को अपने 191 प्रत्याशियों की लिस्ट घोषित कर दी है। इस लिस्ट की घोषणा के बाद से सपा-कांग्रेस के गठबंधन पर संकट के बादल मंडराते नजर आ रहे हैं। दरअसल कांग्रेस को पश्चिम की जो 100 सीटें देने पर सहमति बनी थी उसमें करीब 70 सीटों पर सपा ने अपने प्रत्याशी घ‌ोषित कर दिए हैं। बता दें क‌ि कांग्रेस की जीती हुई सीटों पर भी सपा ने अपने प्रत्याशी उतारे हैं। सपा के प्रत्याशियों की घोषणा होते ही कांग्रेस नेताओं ने बैठक शुरू की जिसमें गुलाम नबी आजाद और राज बब्बर शामिल हैं। वहीं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नंदा का कहना है कि कांग्रेस से जिन सीटों पर बात हुई थी उन पर सहमत‌ि ...
अमर उजाला Fri, 20 Jan 2017 07:36:01 GMTView
इलाहाबाद. कांग्रेस को एक बार फिर अपने ही घर में बड़ा झटका लगा और इलाहाबाद मंडल के प्रभारी और पूर्व मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नंदी अपनी पत्नी शहर की मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी के कांग्रेस का हाथ छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया बता दें की नंदी ने 2007 विधानसभा चुनाव में भाजपा के ही दिग्गज नेता केशरी नाथ त्रिपाठी को शिकस्त दे कर पहली बार विधानसभा में पहुचे और बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे । और इसी शीट पर कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए रीता बहुगुणा जोशी को भी मात मिली थी ।लेकिन यह राजनीत है जिसमे कुछ भी हो सकता है और एक दुसरे के विरोधी एक ही पार्टी ...
Patrika Fri, 20 Jan 2017 08:36:16 GMTView
उत्तर प्रदेश चुनाव में कांग्रेस सिर्फ 2017 को नहीं, बल्कि 2019 को भी ध्यान में रखकर तैयारी के साथ उतरी है। समाजवादी पार्टी के साथ प्रदेश में गठबंधन करने से पहले मंगलवार देर रात जब कांग्रेस के रणनीतिकारों की मीटिंग हुई तो उसमें 2017 के विधानसभा चुनाव के साथ 2019 के आम चुनाव को लेकर रणनीति पर चर्चा हुई। सूत्रों के अनुसार अखिलेश यादव के साथ राहुल गांधी ने चुनाव के बाद भी अपना गठबंधन जारी रखने की नीति पर आगे बढ़ने को कहा है। भले ही चुनाव के बाद नतीजा कुछ भी क्यों न हो। उन्होंने मीटिंग में कहा कि वह एसपी के साथ गठबंधन 2019 में मोदी को रोकने के लिए कर रहे हैं। यह भी पढ़ें: यूपी ...
नवभारत टाइम्स Fri, 20 Jan 2017 06:18:58 GMTView
गुरुवार को पार्टी को उम्मीदवारों की सूची का एेलान करना था, लेकिन सही फॉर्म्युले पर नहीं पहुंच पाने के कारण उसे अपनी ...
Jansatta Fri, 20 Jan 2017 04:37:26 GMTView
नितिन शर्मा, नोएडा। समाजवादी आैर कांग्रेस में गठबंधन के बाद एक बार फिर सपा ने अपने कर्इ प्रत्याशियों का टिकट काट दिया है। इसका सबसे बड़ा असर वेस्ट यूपी में पड़ा है। यहां कर्इ सीटों से सपा के उम्मीदवारों को चुनाव न लड़ने आैर कांग्रेस उम्मीदवार को सपोर्ट करने को कहा गया है। पार्टी का यह फैसला गुरुवार रात तक चली एक बैठक में हुआ। टिकट कटने की खबर मिलते ही सभी प्रत्याशी पार्टी सुप्रीमो से मिलकर अपनी-अपनी दावेदारी रख टिकट बचाने में जुटे हैं। वहीं, शुक्रवार सुबह सपा ने पहले चरण के लिए 191 प्रत्‍याशियों की लिस्‍ट जारी कर दी है। गौतमबुद्ध नगर के एक नेता ने दावा किया क‍ि सपा में ...
Patrika Fri, 20 Jan 2017 07:19:00 GMTView
पंजाब में 4 फरवरी को इलेक्शन है। टीएचए में रह रहे पंजाबी समाज के लोगों की भी नजर इस पर है। वैशाली, वसुंधरा, इंदिरापुरम, अहिंसाखंड, न्यायखंड में बड़ी संख्या में पंजाबी कम्युनिटी के लोग रहते हैं। इनके लिए पंजाब का चुनाव हॉट मुद्दा बना हुआ है। पंजाबियों का कहना है कि भले ही वह गाजियाबाद एनसीआर में रहते हैं, लेकिन अपने गांव और विधानसभा क्षेत्र के चुनाव की पल-पल की जानकारी रखते हैं। यूपी इलेक्शन से ज्यादा उनके लिए पंजाब इलेक्शन अहमियत रखता है। पंजाब की माटी ने ही हमको इस मुकाम तक पहुंचाया है। हालांकि लोगों ने पंजाब इलेक्शन में आम आदमी पार्टी की खराब परफॉरमेंस और ...
नवभारत टाइम्स Fri, 20 Jan 2017 02:30:50 GMTView
कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरेंद्र कसाना का कहना है कि अभी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का गठबंधन नहीं हुआ है। गठबंधन हो जाने के बाद यदि साहिबाबाद सीट कांग्रेस के पाले में आएगी तो यहां से प्रत्याशी के नाम की घोषणा की जाएगी, यदि ये सीट समाजवादी पार्टी के खाते में चली जाएगी तो वे प्रत्याशी घोषित करेंगे। बीएसपी से कांग्रेस में शामिल हुए अमरपाल शर्मा को यहां से प्रत्याशी घोषित किया जाएगा या नहीं? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है। अमरपाल शर्मा को सिर्फ पार्टी की सदस्यता दिलाई गई है, अभी वह प्रत्याशी नहीं हैं। उनका कहना है कि कई और लोग भी टिकट की लाइन में हैं।और अधिक »
नवभारत टाइम्स Fri, 20 Jan 2017 02:30:50 GMTView
बागपत जिले में बागपत सीट पर कांग्रेस और छपरौली व बड़ौत पर सपा चुनाव लड़ेगी। पहले चरण में तीन बागी विधायकों नवाजिश आलम, श्रीभगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित व मुकेश शर्मा को छोड़कर अन्य विधायकों को उम्मीदवार बनाया गया है। फीरोजाबाद, एटा और कासगंज में कांग्रेस को कोई सीट नहीं दी गई है। सूत्रों का कहना है कि शामली, मुजफ्फरनगर की मीरापुर, बिजनोर की चांदपुर सीट कांग्रेस के खाते में चली गई है, गाज़ियाबाद की साहिबाबाद सीट और अलीगढ़ की कोल सीट कांग्रेस को मिल गई है। बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा में एक एक सीट कांग्रेस ...और अधिक »
दैनिक जागरण Fri, 20 Jan 2017 08:58:06 GMTView
Error: Twitter API rate limit reached
congress NewsfI0IWghxyv3IuJQttmzRrELPI