Error: Twitter API rate limit reached
भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के बाद एक अन्य पूर्व मंत्री अरुण शौरी ने भी केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों पर तीखा हमला बोला है. शौरी ने एक समाचार चैनल एनडीटीवी से बातचीत में कहा है कि नोटबंदी अब तक का सबसे बड़ा मनी लाउंड्रिंग घोटाला है. गौरतलब है कि सिन्हा और शौरी दोनों पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में अहम जिम्मेदीर संभाल चुके हैं. शौरी ने जीएसटी को लेकर भी सरकार की आलोचना की. शौरी ने करीब एक साल पहले नवंबर में एक हजार और पांच सौ रुपये के नोटों को अमान्य करार दिए जाने के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि उसी के कारण आज ...
News18 इंडिया Wed, 04 Oct 2017 06:09:23 GMTView
भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। हिमाचल प्रदेश के कसौली में एक कार्यक्रम में बोलते हुए शौरी ने कहा कि नरेंद्र मोदी को समर्थन देना उनकी भूल थी। शुक्रवार (छह अक्टूबर) को दिवंगत लेखक खुशवंत सिंह के नाम पर हो रहे साहित्य समारोह के उद्घाटन के मौके पर बोल रहे थे। शौरी ने कार्यक्रम में कहा, “मैंने कई गलतियाँ कीं….वीपी सिंह को समर्थन देकर और उसके बाद मोदी को समर्थन देकर।” शौरी ने कहा, “ये मत सोचिए कि आपके नेता सत्ता में आते ही बदल जाएंगे। उनके चरित्र को उनकी सत्यनिष्ठा के आधार पर ...
Jansatta Fri, 06 Oct 2017 10:35:45 GMTView
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडियन कंपनी सेक्रेटरीज इंस्टीट्यूट के गोल्डन जुबली समारोह में शल्य का नाम लेकर आलोचकों पर जबरदस्त हमला बोला. हालांकि यहां उन्होंने खुलकर किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन उनकी बातों से प्रतीत होता है कि निशाने पर अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा थे. उन्होंने कहा कि शल्य की प्रवृत्ति वाले लोग अर्थव्यवस्था की रफ्तार जरा सी धीमी होने पर ऐसे हंगामा मचाने लगे हैं, जैसे सब कुछ गड़बड़ हो चुका हो. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब मंगलवार शाम को दिल्ली के विज्ञान भवन में इंडियन कंपनी सेक्रेटरीज इंस्टीट्यूट के गोल्डन जुबली समारोह में शामिल ...
आज तक Wed, 04 Oct 2017 18:25:49 GMTView
निजी नाराजगी के चलते ये दोनों नेता सरकार के कई अच्छे कामों की अनदेखी कर रहे हैं.
Firstpost Hindi Sat, 07 Oct 2017 08:45:08 GMTView
भावना में बहकर अरुण शौरी को नरेंद्र मोदी के खिलाफ आग उगलते देखना निराश करने वाला है. बेशुमार प्रतिभा वाला ये बुद्धिजीवी इन दिनों इतनी कड़वाहट से भरा हुआ है कि वो अपनी निष्पक्षता के बीच में बार-बार नापसंदगी को आने देता है. एक समय शौरी को मोदी में कोई खोट नजर नहीं आती थी. अब उन्हें प्रधानमंत्री की छाया में भी साजिश की बू आती है. मंगलवार को एनडीटीवी पर शौरी के इंटरव्यू के दौरान घृणा का जो रूप सामने आया वो अचंभित करने वाला था. इंटरव्यू में उन्होंने अर्थव्यवस्था को लेकर एनडीए सरकार के तौर-तरीकों की आलोचना की. मोदी के लिए उनकी घृणा छुरा घोंपने जैसी तीव्र थी.
Firstpost Hindi Thu, 05 Oct 2017 08:44:35 GMTView
मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को लेकर विरोध के स्वर लगातार मुखर होते जा रहे हैं। पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के बाद अब पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने केंद्र सरकार के आर्थिक फैसलों की तीखी आलोचना की है। एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में अरुण शौरी ने नोटबंदी और जीएसटी को भारतीय अर्थव्यवस्था की बुरी स्थिति के जिम्मेदार बताया। उन्होंने मोदी सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि नोटबंदी सबसे बड़ी मनी लॉन्ड्रिंग स्कीम थी, जिसके जरिए बड़े पैमाने पर काले धन को सफेद करना का काम किया गया। अरुण शौरी ने इस वक्त जीएसटी लाने के कदम को भी गलत ठहराया। उन्होंने कहा ...
Navjivan Fri, 06 Oct 2017 10:41:15 GMTView
भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने केंद्र की मोदी सरकार पर एक बार फिर निशाना साधा है. राजस्थान पत्रिका के पहले पन्ने पर छपी खबर के मुताबिक इस बार उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा निशाना साधा है. अरुण शौरी ने हिमाचल प्रदेश के कसौली में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी बातें करने में माहिर हैं. जिस मॉडल (गुजरात) के दम पर नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने, अब उसकी दुनिया के सच्चाई सामने आ रही है.' वाजपेयी सरकार में विनिवेश मंत्रालय की जिम्मेदारी संभाल चुके शौरी का आगे कहना था, 'प्रधानमंत्री ने चुनाव से पहले दो करोड़ ...
सत्याग्रह Sat, 07 Oct 2017 03:49:38 GMTView
भारत समाचार: arun shourie made mistake by supporting narendra modi as prime minister.और अधिक »
दैनिक भास्कर Sat, 07 Oct 2017 08:00:48 GMTView
पिछले दिनों पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने इंडियन एक्सप्रेस में एक लेख लिखकर नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र की भाजपा सरकार की आर्थिक नीतियों की जमकर आलोचना की. उनके निशाने पर सबसे अधिक वित्त मंत्री अरुण जेटली रहे. सिन्हा ने उस लेख में यह विस्तार से बताया कि अर्थव्यवस्था कैसे बुरी हालत में पहुंच गई है. इसके बाद वाजपेयी सरकार में मंत्री रह चुके अरुण शौरी ने भी अपनी ही पार्टी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की बुरी हालत के लिए नोटबंदी और जीएसटी जिम्मेदार हैं. इसके बाद सरकार ने भी इन नेताओं पर पलटवार किया.
सत्याग्रह Tue, 10 Oct 2017 07:43:31 GMTView
यशवंत सिन्हा, भाजपा, अरुण जेटली यशवंत सिन्हायशवंत सिन्हा ने लिखा कि आज भारतीय अर्थव्यवस्था का पिक्चर क्या है? प्राइवेट इन्वेस्टमेंट सिकुड़ गयी है. जो इससे पहले दो दशक तक नहीं दिखा था. इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन चरमरा गयी है. कृषि क्षेत्र संकट में है. कंस्ट्रक्शन उद्योग, जो रोजगार प्रदान करने का बड़ा क्षेत्र है, सुस्त पड़ा हुआ है. जो बाकी सेवा क्षेत्र है वो भी धीमा हो चला है. निर्यात घटा है. एक क्षेत्र के बाद दूसरा क्षेत्र संकट में है, नोटबंदी निरंतर आर्थिक आपदा साबित हो रही है. जीएसटी को जिस तरह लागू किया उसका भी नेगेटिव असर अर्थव्यवस्था पर पड़ा है. और इसके कारण लाखों ...
आईचौक Wed, 27 Sep 2017 13:58:42 GMTView
Error: Twitter API rate limit reached
Arun Shourie NewsQHCqIYAANBHLsTCix2N7uRdfB